पडोसी गांव के कई युवकों के साथ घूम रही थी पत्नी, पति ने देखा और चुपचाप…

गोरखपुर : बांसगांव क्षेत्र के एक युवक ने अवैध संबंधों के संदेह में पत्नी की हत्या की थी। पुलिस को उस पर संदेह था। शाम को पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद स्पष्ट हो गया कि उसी ने पत्‍नी की हत्‍या की है। दूसरे दिन शाम को उसे माल्हनपार के पास से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

पत्‍नी के चरित्र पर पहले से था संदेह

आरोपित ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि उसे पत्नी के चरित्र पर पहले से संदेह था। वर्ष 2020 में उसने पड़ोसी गांव के कुछ युवकों के साथ उसने पत्नी को देखा भी था। उसके बाद से वह उन पर मुकदमा दर्ज कराने के लिए दबाव दे रहा था। किसी तरह पत्नी उसकी बात मान गई तो उसने बीते 19 जून को पड़ोसी गांव के कुछ युवकों पर सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने मुख्य आरोपित को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। बीते पांच जुलाई को पत्नी का धारा 164 के तहत बयान हुआ। उसे संदेह था कि कहीं मुकदमे से अलग पत्नी ने बयान न दिया हो। इसे लेकर वह लगातार उसके मायके वालों से उसे वापस ले जाने के लिए कह रहा था। बीती आठ जुलाई की रात में उसने गला दबाकर हत्या कर दी और पत्नी के साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपितों पर यह आरोप मढ़ दिया कि उनके उत्‍पीड़न से तंग आकर उसने खुदकुशी की है।

यहां से पुलिस को हुआ संदेह

एसपी साउथ एके सिंह ने बताया कि महिला की हत्या करने के बाद उसके पति ने पुलिस को सूचना दी कि पत्‍नी ने फंदे से लटककर आत्महत्या कर ली। करीब साढ़े सात बजे पुलिस मौके पर पहुंची तो पति ने साड़ी द्वारा बनाया गए फंदे का निचला हिस्सा खोलकर शव उतार लिया। पुलिस को संदेह हुआ कि फंदे पर जब कोई शव लटका है तो गांठ खुलने की स्थिति में नहीं होती, उसे काटने की जरूरत पड़ती है। पुलिस को मौके से कोई ऐसी वस्तु नहीं दिखी, जिस पर चढ़कर विवाहिता फंदे तक पहुंची हो। पुलिस ने फंदे का ऊपरी हिस्सा भी आसानी से खोल लिया। शशि ने पुलिस को सुबह साढ़े सात बजे सुसाइड नोट की फोटो कापी दी। इससे भी संदेह हुआ था कि ग्रामीण क्षेत्र में इतनी सुबह फोटोकापी की दुकान कहां खुली होगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.