कहीं आप भी तो नहीं खाते डेली उबले हुए अंडे? हो जाइए सावधान!!

नई दिल्ली: शरीर को स्वस्थ्य रखने के लिए अंडा अच्छा विकल्प माना जाता है. ये कई पोषक तत्वों से भरपूर रहता है, जो शरीर को फुर्तिला बनाने में मददगार होता है. अंडे में प्रोटीन, आयरन, विटामिन ए, बी 6, बी 12, फोलेट, एमिनो एसिड, फास्फोरस और सेलेनियम एसेंशियल अनसैचुरेटेड फैटी एसिड्स (लिनोलिक, ओलिक एसिड), पाए जाते हैं.

अंडे को माना जाता है प्रोटीन का राजा
उबले अंडे को प्रोटीन का बेहतरीन स्त्रोत माना जाता है. अंडे को प्रोटीन का राजा भी कहते हैं. यदि आप रेगुलर जिम जाते हैं या फिटनेस फ्रीक (Fitness Freak) हैं, तो स्वभाविक तौर पर आप उबले अंडे के फायदों के बारे में जानते होंगे, लेकिन क्या आपको पता है कि इनके कुछ साइड इफेक्ट भी हैं.

एक्सपर्ट्स की मानें तो, इस क्रेजी डाइट से आपके स्वास्थ्य में कोई ज्यादा बदलाव नहीं आता. कुल मिलाकर इस आहार में स्वस्थ भोजन तो होता है, लेकिन फिर भी यह एक स्वस्थ और संतुलित आहार नहीं है.

​Weight Loss के लिए अच्छा ऑप्शन नहीं है उबला अंडा
वुमेन्स हेल्थ (Women’s Health) मैग्जीन में हाल ही में जारी हुई रिपोर्ट के अनुसार, उबले अंडे, लीन प्रोटीन, बिना स्टार्च वाली सब्जियां, तरबूज, जामुन, अंगूर जैसे फल और कम वसा वाले फूड आइटम कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं, जिनका सेवन तब जरूर करना चाहिए जब आप बॉईल एग डाइट (Boiled Egg Diet) फॉलो कर रहे हैं. न्यूयॉर्क के एक डाइट न्यूटिशन एक्सपर्ट एरिन पॉलिस्की के अनुसार, इस डाइट में लोग नाश्ते में फल के साथ 2 अंडे, दोपहर के भोजन और रात के खाने में अंडे या 1 लीन प्रोटीन (Lean Protein) के साथ-साथ केवल नॉन-स्टार्च वाली सब्जियों का सेवन करते हैं.

टिकाऊ नहीं है ये उपाय
एक्सपर्ट्स कहते हैं कि कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate) का आप जितना कम सेवन करेंगे, यह आपको वजन घटाने में उतना ही मदद करेगा. हालांकि, यह लंबे समय तक टिकाऊ नहीं है, न ही आपके शरीर को संतुलित पोषण प्रदान करता है. उबले हुए अंडे वाली डाइट से आप शुरुआत में कुछ हद तक वजन कम कर सकते हैं, लेकिन जरूरी नहीं कि आपको इसके बेस्ट रिजल्ट्स ही मिलें.

Weight Loss ​के लिए साबुत अनाज ज्यादा मददगार
​साबुत अनाज सभी प्रोसेस्ड फूड यहां तक कि अन्य सब्जियों जैसे आलू, मक्का, मटर और फलियों से बचने में मदद करता है. इसमें आपको कुछ फलों जैसे केला, अनानास, आम, सूखे मेवे और मीठे पेय पदार्थों से भी बचने के लिए कहा जाता है. हाल ही में एक रिसर्च के अनुसार, साबुत अनाज खाना आपके ह्रदय स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है और वजन घटाने में भी कारगार है.

रोजाना अंडे खाते हैं, तो हृदय रोग का खतरा
बॉईल एग डाइट में दो उबले अंडे खाने की सलाह दी जाती है. लेकिन याद रखें कि स्वास्थ्य वर्धक न्यूट्रियंट्स के साथ -साथ अंडे में कोलेस्ट्रॉल और सेचुरेटेड फैट भी होता है, जो हमारे लीवर और ह्रदय को नुकसान पहुंचाता है. साल 2010 में कैनेडियल जर्नल ऑफ कार्डियोलॉजी में पब्लिश हुई एक रिपोर्ट बताती है कि, जो लोग रोजाना अंडे खाते हैं, उनमें हृदय रोग का खतरा लगभग 20% ज्यादा होता है. लेकिन अगर आप हफ्ते में 2-3 बार दो अंडे खा रहे हैं, तो आपको परेशान हाने की जरूरत नहीं है. ये आपके लिए नुकसानदायक नहीं है.

उबले अंडों के साइड इफेक्ट
उबले अंडों में कैलोरी कम होती है. यह साबुत अनाज और बीन्स जैसे कई हाई फाइबर फूड्स पर रोक लगाता है. यह कहा जाता है कि 50 वर्ष या उससे ज्यादा उम्र के पुरूषों को कम से कम 38 ग्राम फाइबर और महिलाओं को कम से कम 25 ग्राम फाइबर का सेवन करना ही चाहिए. अगर आप इससे कम मात्रा में फाइबर का सेवन करेंगे, तो कब्ज की शिकायत हो सकती है. कब्ज का खतरा तब ज्यादा बढ़ जाता है, जब आप केवल उबले अंडे खाते हैं. क्योंकि अंडों में फाइबर की मात्रा न के बराबर होती है.

​क्या बॉईल एग डाइट फॉलो करना सेफ है?
यदि आप थोड़े समय के लिए उबले अंडे खाते हैं और आमतौर पर स्वस्थ हैं, तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है. लेकिन अगर आप अपने वजन में बहुत जल्दी रिजल्ट रिणाम देखना चाहते हैं, तो शुरुआती स्टेज पर यह डाइट ठीक है, लेकिन रेगुलर इसे फॉलो करना आपके स्वास्थ्य को कई तरह से नुकसान पहुंचा सकता है. दरअसल बॉईल एग डाइट एक फैड डाइट (Fad Diet) है, जिसमें लोग वजन घटाने के लिए केवल अंडे, कुछ फल और नॉन -स्टार्च वाली सब्जियां खाते हैं. लेकिन लंबे समय तक इस डाइट को फॉलो करना ठीक नहीं है. गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भूलकर भी इस डाइट को फॉलो नहीं करना चाहिए. इस तरह की डाइट बाद में ज्यादा निराशा का कारण बन सकती है.