एक सास ऐसी भी… जो रोज अपनी बहुओं के पैर धोकर करती है उनकी पूजा

नई दिल्ली: इन दिनों महाराष्ट्र की एक महिला चर्चा में है। यह महिला अपनी बहुओं को भगवान का वरदान मानती है और उनके चरण धोकर उसकी पूजा करती है। इतना ही नहीं वह अपनी बहुओं को लक्ष्मी मानकर उनकी पूजा करती है। महिला अपनी बहुओं को खुद सजाती हैं, उन्हें पूजती हैं और साथ ही उनके आशीर्वाद लेती है।

दरअसल, यह मामला महाराष्ट्र के वाशिम जिले का है। आजतक की एक रिपोर्ट के मुताबिक, महिला का नाम सिंधुबाई है। सिंधुबाई प्रत्येक साल गौरीपूजन के समय अपनी बहुओं को लक्ष्मी का रूप मानकर तीन दिन तक उनकी सेवा और पूजा करती हैं। इस दौरान वह गौरीपूजन के दिन अपनी बहुओं को खुद सजाती हैं, उन्हें पूजती हैं और साथ ही उनके पैर धोकर आशीर्वाद लेती हैं। ऐसा वह पिछले चार सालों से कर रही हैं। सोशल मीडिया पर कई तस्वीरें भी वायरल हुई हैं जिसमें सिंधुबाई अपनी दो बहुओं की पूजा कर रही हैं और उनके पैर धो रही हैं।

बहुओं को भगवान का रुप मानने वाली सास सिंधुबाई का कहना है कि हमेशा बहुएं पूरे परिवार का ध्यान रखती हैं। सबके बाद सोती हैं और सबके बाद खाना खाती हैं। इसके बाद भी अगर उनको आधी रात को एक आवाज लगाओ तो वह हर पल परिवार की सेवा के लिए खड़ी रहती है। इसलिए हमारा फर्ज है कि हम उनकी भी सेवा करें और उन्हें सम्मान दें।

अपनी सास के इस सम्मान से सिंधुबाई की बहुएं भी खुश रहती हैं। उन्होंने बताया कि हमारी सास हमें अपनी बेटी की तरह रखती हैं। हमें किसी भी चीज की कमी महसूस नहीं होने देती हैं। इनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर लोग खूब शेयर कर रहे हैं। लोग सिंधुबाई की मिसाल भी दे रहे हैं और कह रहे हैं कि सास-बहू को ऐसे ही रहना चाहिए।

यह इसलिए भी बेहद रोचक है क्योंकि भारत में मजाक में भी अक्सर ऐसा कहा जाता है कि सास-बहू का रिश्ता बहुत ही पेचीदा होता है। वे हमेशा एक-दूसरे को नीचा दिखाने की कोशिश करती हैं लेकिन आज भी सिंधुबाई जैसी महिलाएं हैं जो सास-बहू के रिश्तों में चार चांद लगाए रखती हैं।