इस देश में रहती हैं दुनिया की सबसे सुंदर महिलाएं! एक-दूसरे को खाने लगे थे लोग

खूबसूरती ऐसी चीज होती है, जो हम सभी को अपनी ओर आकर्षित करती है. फिर चाहे वह प्रकृति की खूबसूरती (Beauty of Nature) हो या इंसान (Beautiful women in Earth) की. खूबसूरती को हर कोई निहारना चाहता है और उसकी तारीफ करना चाहता है. खूबसूरत चीज (Beautiful Women) देखने के बाद इंसान का दु:खी मन अपने आप ही प्रसन्न हो जाता है. आज हम आपको एक ऐसे देश के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां की महिलाएं (Kiev Women) दुनिया की सबसे खूबसूरत महिलाएं (Most Beautiful Women) मानी जाती हैं.

यूरोप का दूसरा सबसे बड़ा देश है यूक्रेन
यूरोप (Europe) में एक देश है यूक्रेन (Ukraine Women). यह रूस (Russia) के बाद यूरोप का दूसरा सबसे बड़ा देश है. इसका क्षेत्रफल 6 लाख वर्ग किलोमीटर से अधिक है. माना जाता है कि यूक्रेन में इतनी खूबसूरत महिलाएं (Beautiful women in Ukraine) रहती हैं जो दुनिया में आपको कहीं देखने को नहीं मिलेंगी. यूक्रेन की राजधानी कीव है. कीव की महिलाओं (Kiev Beautiful Women) को ही दुनिया की सबसे सुंदर महिलाएं माना जाता है.

कीव न सिर्फ इंसानी खूबसूरती बल्कि प्राकृतिक खूबसूरती के लिए भी दुनियाभर में मशहूर है. कीव सौंदर्य का एक ऐसा स्वर्ग माना जाता है, जहां हर कोई अपने जीवन में एक बार जरूर जाना चाहता है. दुनियाभर के लोग यहां आना चाहते हैं और यहां की खूबसूरती का अपनी जीवंत आंखों से दीदार करना चाहते हैं. पर्यटन के लिहाज से कीव विश्वभर के सैलानियों की सबसे पसंदीदा जगहों में से एक है.

खूबसूरती ऐसी कि वापस लौटने का नहीं करेगा दिल
यूक्रेन दुनिया के कुछ प्राचीनतम देशों में से एक है. यूक्रेन में 7 वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स (World Heritage Sites) हैं. एक ट्रेवल वेबसाइट (Travel Websites) के अनुसार, कीव में यूक्रेन ही नहीं बल्कि दुनिया की सबसे सुंदर बालाएं रहती हैं. कीव के पहनावे की भी बात कुछ अलग है. यहां के लोग रंग-बिरंगी और पारंपरिक वेशभूषा पहनते हैं. कीव के राष्ट्रीय पोशाक पर आपको कढ़ाई किए हुए फूल दिख जाएंगे. यहां के लोगों के लिए ब्लैक सी मशहूर डेस्टिनेशन है. यहां की प्राचीन सभ्यता और खूबसूरती देखकर आपको वापस अपने वतन लौटने का दिल ही नहीं करेगा.

अकाल पड़ने पर एक-दूसरे को खाने लगे थे लोग
अपनी खूबसूरती के लिए मशहूर यूक्रेन में साल 1932-33 के दौरान भयंकर अकाल पड़ा था. यूक्रेन तब सोवियत संघ का हिस्सा था. इस अकाल में लाखों लोग काल के गाल में समा गए थे. बताया जाता है कि अकाल के दौरान यूक्रेन में इतनी अधिक भुखमरी थी कि यहां के लोग एक-दूसरे को ही मारकर खाने लगे थे. यहां तक कि यहां के लोग मुर्दा इंसान का मांस खाने लगे थे. उस दौरान 2500 से ज्यादा लोगों को नरभक्षण के आरोप में गिरफ्तार किया गया था.