अभी.अभीः किसानों और पुलिस के बीच जमकर भिडंत, बैरिकेडिंग तोडी, BJP के मंत्री को…

यमुनानगर। केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों की नाराजगी बढ़ती जा रही है. इस बीच शनिवार (10 जुलाई) को हरियाणा के यमुनानगर में प्रस्तावित बीजेपी की बैठक के विरोध में किसानों ने हंगामा किया. बैठक में हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा को आना था, लेकिन इससे पहले ही पुलिस और किसानों के बीच झड़प हो गई.

बताया जा रहा है बीजेपी की बैठक में मंत्री मूलचंद शर्मा, कंवर पाल गुर्जर व पार्टी नेता रतनलाल कटारिया सहित तमाम नेताओं को आना था. लेकिन बीजेपी नेताओं को किसानों के विरोध का सामना करना पड़ा. गुस्साए किसानों ने ट्रैक्टर से बैरिकेड तोड़ दिए. कई किसान बैरिकेड के ऊपर चढ़ गए और पुलिस से बहसबाजी करने लगे.

मौके पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया. दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए. टकराव की आशंका को देखते हुए पुलिस फोर्स को अलर्ट कर दिया गया है. पुलिसकर्मियों ने कड़ी मशक्कत के बाद ट्रैक्टर व किसानों को आगे जाने नहीं दिया. इस दौरान किसानों और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की हुई.

आशीष चौधरी (डीएसपी, बिलासपुर) ने कहा कि पुलिस बैरिकेडिंग को ट्रैक्टर से टक्कर मारने वालों पर कार्रवाई होगी. फिलहाल पुलिस ने हालात को काबू में कर लिया है.

इससे पहले एएनआई से बात करते हुए किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि भारत सरकार बातचीत करना चाहती है तो हम तैयार हैं. 22 तारीख से हमारा दिल्ली जाने का कार्यक्रम रहेगा. 22 जुलाई से संसद सत्र शुरू होगा. 22 जुलाई से हमारे 200 लोग संसद के पास धरना देने जाएंगे.

टिकैत ने कहा कि मैंने ये नहीं कहा था कि कृषि क़ानूनों को लेकर UN (संयुक्त राष्ट्र) जाएंगे. हमने कहा था कि 26 जनवरी के घटना की निष्पक्ष जांच हो जाए. अगर यहां की एजेंसी जांच नहीं कर रही है तो क्या हम UN में जाएं?

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.