अपने कपड़े उतारो… लड़की नहीं मानी तो, फिर यूं चला ब्लैकमेलिंग का खेल

मुंबई: इस मामले में पीड़िता मलाड निवासी 17 साल की एक लड़की है। आरोपी की पहचान पुणे निवासी संजय ओहल के तौर पर हुई है। इंस्टाग्राम पर दोस्ती के बाद दोनों के बीच चैटिंग होने लगी। मई से जून के बीच में ओहल ने कई बार वीडियो कॉल भी किया। वह अक्सर लड़की को कपड़े उतारने को भी कहता था।

पुलिस ने बताया कि ऐसे ही एक बार वीडियो कॉल के दौरान आरोपी की तरफ से कपड़े उतारने की मांग को लड़की ने खारिज कर दिया। आरोपी संजय ने चाकू निकालकर अपनी हथेली काटने की धमकी दे डाली। दबाव में आकर लड़की ने आरोपी की बात को मान लिया, जिसने स्क्रीन रेकॉर्डर ऐप से वीडियो को रेकॉर्ड कर लिया।

इसके बाद आरोपी ने लड़की को वीडियो क्लिप भेजी और उसे वायरल करने की धमकी देकर पैसे की डिमांड करने लगा। लड़की ने घर में मां के गहने चुराकर 10 हजार की रकम आरोपी को ट्रांसफर की। इसी तरह एक-एक कर कुल 58 हजार रुपये ऐंठ लिए। गहने गायब होने पर जब मां ने कड़ाई से पूछताछ की तो पीड़िता ने सारी बात बताई।

इसके बाद पीड़िता ने मां के साथ जाकर कुरार थाने में तहरीर दी और एफआईआर दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी संजय के फोन नंबर को ट्रैक कर उसे पुणे से गिरफ्तार किया। सीनियर इंस्पेक्टर प्रकाश बेले ने बताया कि आरोपी उस्मानाबाद का निवासी है और कैब चलाता है। उसे कस्टडी में ले लिया गया है।