अंधविश्वास की सारी हदें पार: जिंदा करने के लिए पिता के शव को उल्टा लटका कर झूले की तरह झुलाया

गुना। मध्य प्रदेश के गुना के गांव जोगीपुरा से हर किसी को झकझोर देने वाली तस्वीरें सामने आई है। यहां पर पानी में डूबे एक युवक के पैर रस्सी से बांधकर पेड़ से उल्टा लटकाया है। कोई इसे शव की बेकद्री तो कोई युवक की जान बचाने की आखिरी कोशिश बता रहा है।

दरअसल, हुआ यह कि गुना जिले के कुंभराज के गांव जोगीपुरा का भंवरलाल बंजारा सोमवार दोपहर अपने गांव की नदी में नहा रहा था। इसी दौरान वह पानी में डूबने लगा। वहां अन्य लोग भी मौजूद थे। उन्होंने भंवर लाल को बचाने की कोशिश की, मगर वह गहरे पानी में समा गया।

फिर ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस गोताखोरों के साथ वहां पहुंची और भंवर लाल को पानी से बाहर निकाला। तब परिजनों को लगा कि उसकी सांसें चल रही है। इसी दौरान किसी ने आइडिया दिया कि भंवर के शरीर से पूरा पानी बाहर निकाल दिया जाए तो वह जिंदा हो सकता है।

ऐसे में सानई पुलिस चौकी प्रभारी तोरन सिंह व अन्य पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में भंवरलाल बंजारा के पैरों के रस्सी बांधकर उसे पेड़ से उल्टा लटका दिया और उसके शरीर में भरा पानी बाहर निकालने का प्रयास करते रहे। कुछ देर तक भंवर लाल के शरीर में कोई हरकत नहीं हुई तो पुलिस ने उसका शव नीचे उतरवाया और पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंपा।

बता दें कि भंवर लाल तीन बच्चों का पिता था। वह खेती करके परिवार का गुजर बसर कर रहा था। अचानक नदी हादसे में उसकी जान चली जाने के कारण परिवार पर दुखों का पहाड़ टूटा और बच्चों व अन्य परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया।