UP के इस जिले मे कोरोना का कहरः स्वास्थ्यकर्मियों समेत 14 कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

नोएडा: तमाम प्रयासों के बावजूद जिले में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब जिले के स्वास्थ्यकर्मी भी वायरस की चपेट में आने लगे हैं। शनिवार को जिला अस्पताल की वार्ड आया, चाइल्ड पीजीआई के कुक समेत 6 स्वास्थ्य कर्मियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव मिली। इसके अलावा नोएडा ग्रेटर- नोएडा के विभिन्न इलाकों में मरीज मिले। इनमें कुछ का ताल्लुक जमातियों से हैं तो कुछ का कारण अभी अज्ञात बना है। इसके साथ अब जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 129 पर पहुँच गया है।

186 संदिग्धों के नमूने जांच के लिए भेजे गए
जानकारी के अनुसार, विगत 22 अप्रैल को स्वास्थ्य विभाग ने स्वास्थ्य कर्मचारियों समेत 186 संदिग्धों के नमूने जांच के लिए प्रयोगशाला भेजे थे। इनमें 4 सैम्पल रिपीट किये गए थे। रविवार देर रात इन सैम्पलों का नतीजा स्वास्थ्य विभाग को मिला। इनमें 15 की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है।

कांग्रेस ने योगी सरकार पर लगाया कोरोना महामारी के आंकडे़ छिपाने का आरोप

क्वारंटाइन वार्ड के प्लम्बर भी कोरोना पॉजिटिव
पॉजिटिव मरीजों में 6 स्वास्थ्यकर्मी सेक्टर 30 स्थित चाइल्ड पीजीआइ के हैं, इनमें कुक भी शामिल हैं। इसके अलावा जिला अस्पताल की वार्ड आया और सेक्टर 39 में बने क्वारंटाइन वार्ड के प्लम्बर भी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। एक मरीज कुलेसरा ओर एक मरीज एच्छर गांव में मिला है। इनमें संक्रमण का कारण जमात है। शेष सिरसा, सुपरटेक, ग्रेटर नोएडा, सेक्टर 63 में भी एक एक कोरोना के मरीज मिले, जबकि 15वां मरीज दिल्ली का रहने वाला है।

loading...

स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप
एक साथ 15 मरीज मिलने से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। स्वास्थ्य व प्रशासन के अधिकारी मीटिंग पर अस्पतालों व सेक्टरों को सील करने की तैयारी कर रहे हैं। सीएमओ डॉ. दीपक ओहरी का कहना है कि पॉजिटिव मरीजो में एक महिला पहले से ही आइसोलेशन वार्ड में भर्ती है। उसकी पांचवी रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। 14 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। इसी के साथ अब जिले में कोरोना मरीजो का आंकड़ा 129 पर पहुच गया है।

भारत समेत अन्य देशों में कब तक खत्म होगा करोना का प्रकोप, यहा देखे

संख्या कम करने को आंकड़ों में फेरबदल कर रहा स्वास्थ्य विभाग
मरीजों की संख्या कम करने और आंकड़ो को बेहतर बनाने के लिए जिले का स्वास्थ्य विभाग तिगड़मबाजी में लगा है। इससे पूर्व भी मिले में कई मामले ऐसे सामने आ चुके है जिनकी जांच नोएडा में हुई है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग द्वारा उन्हें अपने रिकॉर्ड में शामिल नहीं किया गया।

गत दिवस भी सलारपुर भंगेल में पॉजिटिव मिली महिला की जांच नोएडा जिला अस्पताल में हुई थी, लेकिन स्वास्थ्य विभाग ने महिला को गाजियाबाद भिजवा दिया। इसके अलावा प्राइवेट अस्पतालों में मिले मरीजों को भी रिपोर्ट में शामिल नहीं किया गया है। अब विभाग आज मिले दिल्ली के मरीज को भी रिकॉर्ड से कैसे निकाला जाए। इसकी तैयारियों में जुट गया है।

loading…