विदेशी कंपनियों को भारत में लाने के लिए मोदी सरकार का मेगा प्लान तैयार..जानिए क्या होगा असर

नई दिल्ली. देश की अर्थव्यवस्था (Indian Economy) को फिर से पटरी पर लाने के लिए केंद्र सरकार (Government of India) लगातार कदम उठा रही है. इस कड़ी में अब सरकार विदेशी कंपनियों (Foreign Companies ) को भारत में लाने के लिए कई तरह की रियायतें दे सकती है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनियों को 10 साल तक सभी तरह की टैक्स छूट भी देने पर विचार किया जा रहा है.

ये भी पढें: सरकार ने बदले नियम, 80 करोड़ लोगों को मिलेगा फायदा

अंग्रेजी के अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक, विदेशी कंपनियों को निवेश के आधार पर टैक्स छूट दी जाएगी. अगर कोई कंपनी 50 करोड़ डॉलर (करीब 3800 करोड़ रुपये) से ज्यादा का नया निवेश करती है तो उसे 10 साल तक टैक्स पर पूरी तरह से छूट मिलेगी. इस टैक्स छूट का फायदा लेने के लिए कंपनियों को 1 जून से 3 साल के भीतर ऑपरेशन शुरू करना होगा.

loading...

मेडिकल डिवाइस, इलेक्ट्रॉनिक्स, टेलीकॉम उपकरण और कैपिटल गुड्स से जुड़ी कंपनियों को यह टैक्स छूट मिलेगी.जो कंपनियां लेबर आधारित सेक्टर्स जैसे टैक्सटाइल, फूड प्रोसेसिंग, लेदर और फुटवियर सेक्टर में 100 करोड़ डॉलर (करीब 7600 करोड़ रुपये) से ज्यादा का निवेश करेंगी, उन्हें चार साल तक टैक्स में पूरी तरह से छूट मिलेगी.

ये भी पढें: पीएम मोदी का आज रात 8 बजे करेंगे राष्ट्र के नाम संबोधन

इसके बाद अगले 6 साल तक 10 फीसदी की कम दर पर कॉरपोरेट टैक्स का भुगतान करना होगा. इस प्रस्ताव को अभी वित्त मंत्रालय की मंजूरी मिलनी है. हालांकि, अभी तक इस पर कोई भी अंतिम फैसला नहीं हो पाया है.

loading…