लॉकडाउन के बीच UP से भेजी गईं 214 करोड़ की सब्जियां इंग्लैंड

कानपुर | कोरोना काल में सब्जियों के भाव औंधे मुंह गिर गए हैं। परेशान किसानों की लागत भी नहीं निकल पा रही हैं। इस विकट परिस्थिति में ये खबर जरूर कुछ राहत देने वाली है। उत्तर प्रदेश से पहली बार इंग्लैंड को सब्जियों का निर्यात किया गया है। बता दें कोरोना से ब्रिटेन भी बुरी तरह प्रभावित है। ब्रिटेन में अभी तक इस महामारी से 20 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

तीन दिन पहले बनारस से 214 करोड़ की सब्जियों का निर्यात किया गया है। इस खेप में कानपुर से 39 करोड़ रुपये की सब्जियां गई हैं। फेडरेशन आफ इंडियन एक्सपोर्ट आर्गनाइजेशन (फियो) के सलाहकार वाई एस गर्ग ने बताया कि वर्ष 2020-25 की राज्य कृषि निर्यात नीति के तहत कोरोना के संक्रमण काल में सब्जियों की पहली लाट निर्यात की गई है। इंग्लैंड में हालात अच्छे नहीं हैं।

50 तरह की सब्जियां
ब्रिटिश एयरवेज का जहाज वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पर उतरा। इस खेप में करीब 50 तरह की सब्जियां भेजी गई हैं। इंग्लैंड भेजी गई सब्जियों में 101 करोड़ रुपये के आलू और लगभग 84 करोड़ की प्याज भेजी गई है। वहीं रायटर के मुताबिक ब्रिटेन में सरकार महीनों से जारी लॉकडाउन को कम करने की योजना बना रही है। ब्रिटिश मीडिया की ओर से यह दावा किया गया है। द टेलीग्राफ(The Telegraph) ने बताया कि ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की रविवार रात डाउनिंग स्ट्रीट लौटने के बाद इस हफ्ते की शुरुआत में महीनों से जारी लॉकडाउन को कम करने की योजना की घोषणा होने की उम्मीद है।

इस दौरान ब्रिटेन में लॉकडाउन को 7 मई से पहले कम करने की तैयारी हो सकती है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन COVID-19 पॉजिटिव पाए जाने के बाद अस्पताल में एक सप्ताह बिताने के बाद और दो सप्ताह के लिए अपने घर में कैद रहने के बाद सोमवार को काम पर वापस लौट रहे हैं।

loading…