पड़ोसन को सिखा रहा था बाइक, पुलिस ने काटा 3500 रुपये का चालान

आगरा।लॉकडाउन में लोग अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। केंद्र, राज्य और प्रशासन की घरों में रहने की अपील के बाद भी लोग बहाने बनाकर बाहर निकल रहे हैं। गुरुवार को आगरा के हरीपर्वत चौराहे पर पुलिस ने एक युवक और महिला को पकड़ा। युवक अपनी पड़ोसन को बाइक चलाना सिखा रहा था। ट्रैफिक पुलिस ने जब दोनों को रोका तो महिला और युवक ने बताया कि जिला अस्पताल से दवाई लेने के गए थे। लेकिन पुलिस ने 3500 रुपये का चालान काट कर थमा दिया।

प्रशासन का कठोर कदम: दिल्ली से आने वालों पर रोक लगाने के लिए खुदवा दी सड़कें

loading...

घटना गुरुवार दोपहर में करीब पौने दो बजे की है। एडीजी अजय आनंद और एसएसपी बबलू कुमार दौरे पर थे। जैसे ही उनका काफिला चौराहे से निकला तो कुछ देर बाद एक महिला बाइक चलाती हुई हरीपर्वत चौराहे पर पहुंची। बाइक पर पीछे एक युवक बैठा था। चौराहे से दिल्ली गेट की ओर मुड़ते समय बाइक का संतुलन बिगड़ गया। लेकिन स्पीड कम होने पर दोनों गिरने से बच गए। यह देख ट्रैफिक पुलिस कर्मी दौड़े। महिला और युवक पुलिस को देख सक-पका गए। पुलिस ने दोनों से घर से निकलने का कारण पूछा। इस पर महिला बोली कि उसको चर्म रोग हो गया है। वह जिला अस्पताल में दवाई लेने के लिए गई थी।

बडी खबर: UP के इस विभाग पर छाया आर्थिक संकट, कार्मिकों को वेतन मिलना मुश्किल

पुलिस ने युवक से पूछा तो उसने बताया कि पड़ोसन हैं। बाइक चलाना सिखा रहा था। पुलिस ने जब बाइक के दस्तावेज और ड्राइविंग लाइसेंस मांगा तो वह दे नहीं पाया। पुलिस ने अपने एप से पता किया तो बाइक किसी और के नाम पर थी। बिना हेलमेट, बिना दस्तावेज और बिना ड्राइविंग लाइसेंस पर पुलिस ने 3500 रुपये का चालान थमा दिया। भविष्य में बिना काम के घर से नहीं निकलने की हिदायत भी दी।

loading…