टॉयलेट में खतरा: 41 लोग हुये Positive, सतर्क रहना होगा सभी को

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या से पूरा देश परेशान है। ऐसे में बीते कई दिनों से राजधानी दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या कुछ ज्यादा ही तेजी से बढ़ रही है। वहीं दक्षिणी पश्चिमी दिल्ली के कापसहेड़ा इलाके से डरा देने वाली खबर आई है। इलाके में शनिवार को एक ही बिल्डिंग के 41 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। दिल्ली के कापसहेड़ा इलाके की ‘ठेके वाली गली’ में एक ही बिल्डिंग में पाए गए 41 कोरोना मरीजों का एक साथ संक्रमित होना, इसके पीछे सबसे बड़ा कारण यहां की घनी आबादी को बताया जा रहा है।

इस मामले में दक्षिणी पश्चिमी दिल्ली के डीएम राहुल सिंह ने रविवार को कहा कि एक ही बिल्डिंग में जो 41 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, वह सभी एक ही टॉयलेट का इस्तेमाल कर रहे थे। इलाके में घनी आबादी होने की वजह से यहां छोटे- छोटे मकान हैं, जिसमें काफी संख्या में लोग रहते हैं।

देश के कई हिस्सों में मौसम ने ली करवट, बरसे मेघ

दिल्ली के डीएम के अनुसार, जिस बिल्डिंग में 41 कोरोना मरीज पाए गए हैं, वहां करीब 200 लोग रहते हैं। छोटे मकान और घनी आबादी की वजह से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न के बराबर था।

साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जो 41 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, उनका आज फिर टेस्ट होगा। इसके अलावा कापसहेड़ा इलाके में और कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने की भी आशंका है।

अभी-अभी बम धमाका: कश्मीर में मची अफर-तफरी, कई लोग जख्मी

18 अप्रैल को दिल्ली के कापसहेड़ा इलाके की एक बिल्डिंग में कोरोना का पहला केस सामने आया था। घनी आबादी होने से प्रशासन ने 19 अप्रैल को इलाके को सील कर दिया था।

फिर इसके बाद यहां के 95 लोगों के सैंपल 20 अप्रैल को और 80 लोगों के सैंपल 21 अप्रैल को नोएडा की एनआईबी लैब में कोरोना की जांच के लिए भेजे गए थे।

तो ऐसे में कुल मिलाकर 175 लोगों के सैंपल में से 67 लोगों के सैंपल की रिपोर्ट शनिवार को आई। आई रिपोर्टों में से 41 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। वहीं अभी कुछ लोगों की रिपोर्टें आना बाकी है, उनके बारे में कुछ कहा नही जा सकता।

loading…