इस देश ने चीन पर बोला हमला, ट्रंप ने थपथपाई पीठ, कहा- मैंने…

ट्रंप ने ट्वीट में आगे कहा, “साथ ही उनका कहना था कि वायरस ज्यादा खतरनाक नहीं है और कुछ समय में इससे निजात मिल जाएगी बार फिर गलत साबित हुआ, हमेशा की तरह.” ट्रंप ने कहा कि उन्होंने देश में चीन के लिए बहुत पहले ही बैन लगाकर हजारों लोगों की जान बचाई है. उन्होंने कहा कि जिन लोगों को देश में आने की इजाजत दी गई, उनकी अच्छी तरह से जांच की गई और टेस्ट किए गए.

अभी-अभीः फंस गया चीन, वुहान की लैब से ही निकला कोरोना, मिले सुबूत

मालूम हो कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कोरोनावायरस के संक्रमण को लेकर चीन को मुख्य आरोपी बता रहे हैं और वह इसको लेकर लगातार उसपर हमलावर हैं. दरअसल चीन के वुहान से इस वायरस की शुरुआत हुई थी और अब अमेरिका में इस वायरस से संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले हैं.

चीन की रचाई गई घिनौनी साजिश ने खोले भारत की कामयाबी के रास्ते, जानिये कैसे..

अमेरिका में 11 लाख से ज्यादा लोग इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं और 67 हजार से ज्यादा अपनी जान गंवा चुके हैं. हालांकि ट्रंप ने दावा किया है कि अमेरिका के पास इस साल के आखिर तक कोरोनावायरस को रोकने के लिए वैक्सीन उपलब्ध होगी.
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर चीन को कोरोनावायरस महामारी फैलाने का जिम्मेदार बताते हुए हमला बोला है. डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर कहा, “इंटेलिजेंस ने मुझे बताया है कि मैं सही था और उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस का मामला जनवरी के आखिर तक सामने नहीं लाया गया था, तब तक मैंने अमेरिका में चीन प्रतिबंध लगा दिया था.”

loading…