हरियाणा में एक दिन में सामने आये 75 पॉजिटिव, देंखे जिलेवार लिस्ट

पानीपत. हरियाणा में सोमवार को कोरोना के सबसे ज्यादा 75 केस सामने आए हैं। इसके चलते अब कुल मरीजों का आंकड़ा 500 पार करते हुए 519 पहुंच गया है। वहीं प्रदेश में कोरोना की वजह से सोमवार को 7वीं मौत हो गई। वहीं फरीदाबाद में एक कोरोना मरीज ने दम तोड़ दिया है। सोमवार को सोनीपत और अम्बाला में सबसे ज्यादा मरीज आए। सोनीपत में एक साथ 29 और अम्बाला में 23 मरीज मिले हैं। अम्बाला में मिले मरीज डॉक्टरों के क्वार्टर निर्माण का काम कर रहे थे।

झज्जर में 14 मरीज मिले, इनमें से 9 का बहादुरगढ़ मंडी से कनेक्शन
इसके अलावा, सोमवार को झज्जर में 14 मरीज, पानीपत में 3, करनाल में 2, फरीदाबाद में 2, गुड़गांव में 1 और नूंह में 1 केस सामने आया है। झज्जर में मिले 14 मरीजों में से 9 का कनेक्शन बहादुरगढ़ सब्जी मंडी से है। अन्य 2 मरीज बहादुरगढ़ शहर के विवेकानन्द नगर निवासी हैं। ये दोनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए फार्मेसिस्ट के परिजन हैं। झज्जर में अब कुल मरीजों की संख्या 56 पहुंच गई है। सोमवार को गुड़गांव के 9 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिली।

ओल्ड फरीदाबाद में रहने वाले 55 वर्षीय बुजुर्ग की मौत
फरीदाबाद में कोरोना से दूसरी मौत होने का मामला प्रकाश में आया है। ओल्ड फरीदाबाद के बाढ मोहल्ले में रहने वाले एक 55 बुजुर्ग की सोमवार को मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग ने इनके परिवार के 23 लोगों को क्वारैंटाइन भी कर दिया है। यह मरीज पिछले कई दिनों से एक निजी अस्पताल में हृदय रोग से पीडि़त होकर ईलाज करवा रहे थे। इस दौरान उनका कोरोना टेस्ट भी करवाया गया था। जिसकी रिपोर्ट पॉजीटिव आई थी। इस दौरान बीती रात उनकी तबीयत अधिक खराब हो गई थी। वहीं सेक्टर-8 स्थित निजी अस्पताल ने पॉजीटिव आने के बाद उन्हें ईएसआई कोविड सेंटर भेज दिया, जहां आज उनकी मृत्यु हो गई।

डॉक्टरों का क्वार्टर निर्माण कर रहे 20 मजदूर संक्रमित मिले
अम्बाला के सिविल सर्जन कुलदीप सिंह ने बताया कि 20 से ज्यादा कोरोना मरीजों की पुष्टि होने की जानकारी मिल रही है। ये लोग सभी लेबर का काम कर रहे थे। वे डॉक्टरों के लिए क्वार्टर निर्माण का काम कर रहे थे। सिविल सर्जन का कहना है कि स्वास्थ्य विभाग ने उनके संपर्क में आए लोगों की तलाश शुरू कर दी है। उस पूरे इलाके को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। जानकारी मिल रही है कि इन्होंने कहीं लंगर भी खाया है।

बहादुरगढ़ में तेजी से बढ़े कोरोना मरीजों के बाद शहर के अलग-अलग इलाकों को सैनिटाइज किया जा रहा है।
हरियाणा में मौत का आंकड़ा हुआ 7
हरियाणा में अब तक संक्रमण से कुल 7 लोगों की मौत हो चुकी है। पहली मौत 2 अप्रैल को अम्बाला के 67 वर्षीय बुजुर्ग की हुई थी। जिन्होंने चंडीगढ़ पीजीआई में दम तोड़ा था। इसके बाद दूसरी मौत 3 अप्रैल को हुई थी जब रोहतक की कोरोना पॉजिटिव महिला ने दिल्ली में दम तोड़ा था। तीसरी मौत 5 अप्रैल को करनाल के बुजुर्ग की हुई थी। उनकी मौत चंडीगढ़ पीजीआई में हुई थी। चौथी मौत 28 अप्रैल को फरीदाबाद में हुई थी। यहां 68 वर्षीय बुजुर्ग ने ईएसआई अस्पताल में दम तोड़ दिया था। पांचवीं मौत 2 मई को हुई। जब 63 वर्षीय कोरोना पीड़ित एक महिला ने चंडीगढ़ पीजीआई में दम तोड़ दिया था। छठी मौत 3 मई रात को रोहतक पीजीआई में हुई। यहां गुरुग्राम के सेक्टर-18 के रहने वाले 45 वर्षीय व्यक्ति की रोहतक पीजीआई में दम तोड़ा।

हरियाणा में डबलिंग रेट व रिकवरी रेट बिगड़ा
हरियाणा में नियंत्रित दिख रहा कोरोना एकाएक बेकाबू हो गया और डबलिंग व रिकवरी रेट को बिगाड़ दिया। डबलिंग रेट 21 दिन से 13 दिन पर आ गया तो रिकवरी रेट 50 फीसद से नीचे लुढक गया। मात्र चार दिन में 170 नए मरीजों में इजाफा हुआ है, जो सरकार की चिंता बढ़ा रहा है। संक्रमितों का ग्राफ जिस तेजी से बढ़ रहा है उससे कोरोना को मात देने वालों की गति धीमी हो रही है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक गुरुग्राम में 9 मरीज कोरोना को मात देने में सफल रहे हैं, अब रिकवरी रेट 49.13 पर अटक गया है जोकि 28 अप्रैल को 72.72 था। प्रदेश में ठीक होने वालों का आंकड़ा 254 हो गया है। सर्विलांस पर रखे गए 37 हजार 330 में से 20 हजार 947 इस अवधि को पूरा कर चुके हैं, अब 16 हजार 383 ही निगरानी में हैं।

पानीपत में तीन मरीज मिले, कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं
पानीपत में कोरोना के कुल 27 हो गए हैं। सोमवार को हरिबाग कॉलोनी के 32 वर्षीय युवक, कलंदर चौक के 53 वर्षीय व्यक्ति और राजीव कॉलोनी की 65 वर्षीय महिला संक्रमित निकलीं। बड़ी बात है कि अब बिना लक्षण के लोगों की जा रही जांच में यह मरीज सामने आ रहे हैं। हरिबाग कॉलोनी में 32 वर्षीय युवक में कोई सिम्टम नहीं मिले हैं और न ही इसकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री हैं। राजीव कॉलोनी की 53 वर्षीय महिला जो पॉजिटिव मिली हैं, वह 5 दिन पहले ही नोएडा से लौटी है, इसमें भी कोई भी लक्षण नहीं मिले हैं। कलंदर चौक के 53 वर्षीय पुरुष में कुछ लक्षण मिले हैं। सीएमओ डॉ. संतलाल ने बताया कि दो केसों में दो लोग खुद सैंपल के लिए आए थे।

loading…