साल के अंत तक आ जाएगा चीन और पाकिस्तान के छक्के छुड़ाने वाला लड़ाकू विमान

Rafale-Fighter-Jet

राफेल लड़ाकू विमान इस साल जुलाई के अंत तक फ्रांस से भारत पहुंचना शुरू हो जाएंगे. यह विमान हवा में भारत की मारक क्षमता को और ताकतवर बना देगा. मीडिया से मिली जानकारी के अनुसार यह विमान हवाई हमले की क्षमता के मामले में भारत को पाकिस्तान और चीन दोनों पर बढ़त देगा. बता दें कि विमान पहले मई अंत तक भारत आने वाले थे, लेकिन कोरोना वायरस (COVID-19) के कारण इसे दो महीने के लिए स्थगित कर दिया गया. ये एयरक्रॉफ्ट पंजाब के अंबाला एयरबेस पर उतरेंगे.

ZOOM ऐप पर बाइबल की क्लास के दौरान चल पड़ी पोर्न वीडियो, जाने पूरा मामला

इस मामले को लेकर रक्षा सूत्रों ने मीडिया को बताया कि, ‘ तीन ट्विन-सीटर ट्रेनर एयरक्राफ्ट और एक सिंगल-सीटर लड़ाकू विमान सहित पहले चार विमान जुलाई के अंत तक अंबाला एयरबेस पर पहुंचने लगेंगे. ये लड़ाकू विमान आरबी सीरिज के होंगे.पहला विमान 17 गोल्डेन एरोज के कमांडिंग ऑफिसर फ्रांस के पायलट के साथ उड़ाएंगे.’

अभी-अभी: महाराष्ट्र में कोरोना से 9वें पुलिसकर्मी की मौत, 1232 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार फ्रांसीसी वायु सेना के टैंकर विमान से इन लड़ाकू विमानों में हवा में ही ईंधन भरा जाएगा. इसके बाद ये मिडिल ईस्ट में किसी जगह विमान उतरेंगे. मिडिल ईस्ट से आते वक्त भारत में उतरने से पहले भारतीय आईएल -78 टैंकर द्वारा फिर से हवा में ईंधन भरा जाएगा. सूत्रों ने कहा कि राफेल सीधे फ्रांस से भारत आ सकता था, लेकिन एक छोटे कॉकपिट के भीतर 10 घंटे की उड़ान तनावपूर्ण हो सकती है.

loading…