नई गाइड लाइन के साथ शुरू होगी सीरियल्स की शूटिंग, मौत होने पर दिया जाएग 50 लाख का मुआवजा

bhabhe ji ghar par h

कोरोना वायरस के खौफ के चलते पूरा देश लॉकडाउन है. ऐसे में बॉलीवुड से लेकर टीवी इंडस्ट्री ठप पड़ी हुई है. लेकिन अब सीरियल्स के चाहने वालों के लिए खुशखबरी है. टीवी शो देखने वालों को बहुत जल्द अब सीरियल के नए एपिसोड नजर आने वाले हैं. जी हां सीरियल के जून के अंत में नई गाइड लाइन के साथ सीरियल की शूटिंग शुरू होने वाली हैं. एकता कपूर के सीरियल्स, भाभीजी घर पर है, सोनी टीवी पर आने वाला रियलिटी शो, केबीसी जल्द ही लिमिटेड क्रू के साथ अपनी शूटिंग शुरू करेंगे.

जिनकी खूबसूरती के दीवाने है पूरी दुनिया के युवा, लॉकडाउन के कारण घर में कर रही झाड़ू पौछा

एक वेबसाइट के मुताबिक फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉय के प्रेसिडेंट बीएन तिवारी ने इसकी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि दैनिक कर्मचारियों को ध्यान में रखते हुए प्रोडयूसर्स के आगे कुछ शर्ते रखी गई हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के साथ जीने की हमने प्रैक्टिस शुरू कर दी गई है. ये वायरस तो लम्बे वक्त तक चलने वाला है और इसकी कोई वैक्सीन भी नहीं बनी है. उन्होंने कहा कि इसीलिए काम तो शुरू करना पड़ेगा उसके बगैर काम तो चलने वाला है नहीं. ऐसे में सभी को ट्रेनिंग देनी शुरू कर दी है, मास्क कैसे कैरी करना है. सेनिटाइजर के साथ कैसे उन्हें रहना है. सेट पर एक इस्पेक्टर रखेंगे जो इंस्पेक्शन करेगा कि कौन मास्क पहन रहा है और कौन नहीं. जब तक वर्कर्स के नेचर में नहीं आ जाता है तब तक वहां एक इंस्पेक्टर रहेगा.

loading...

नेहा कक्कड़ ने फिर किया कमाल, दुनियाभर के सिंगर्स को पछाड़ बनाया ये रिकॉर्ड

उन्होंने आगे बताया कि किसी वर्कर की मौत होती है तो चैनल और प्रोड्यूसर्स उस वर्क के परिवार वालों को 50 लाख तक ता मुआवजा दे और उसका पूरा मेडिकल खर्चा भी उठाये. इसी के साथ यदि एक्सीडेंटल डेथ पर प्रोडयूसर्स ने 40-42 लाख तक दिए हैं लेकिन कोरोना वायरस के लिए कम से कम मिनिमम 50 लाख का कंपनसेशन रखा है. उन्होंने कहा कि ऐसा करने से वर्कर को हौसला बढ़ेगा कि अगर उनको कुछ होता है तो उनके परिवार को देखने के लिए उनके प्रोडयूसर्स हैं. इसी कॉन्फिडेंय से वो काम करने आएंगे.

शूटिंग के सेट पर करीब 100 लोग या उस से ऊपर होते हैं. परिस्तिथि के साथ समझौता करते हुए हमे 50 प्रतिशत यूनिट के साथ सेट पर काम करना होगा. प्रोडूसर्स से ये भी कन्फर्म करेंगे कि बाकी की 50 प्रतिशत यूनिट शिफ्टि्स में काम करें. जिससे की सबका परिवार चल सके. उन्होंने कहा कि सिर्फ तीन महीने तक 50 साल की उम्र के ऊपर के मजदूरों को अभी घर पर रहने के लिए कहा है क्योंकि उन्हें ज्यादा खतरा है. तीन महीने के बाद उम्मीद है कि सब ठीक होने लगेगा.

टूटे हुए दिल के साथ शाहरुख की बेटी ने शेयर की फोटो, हाथों में मेहंदी लगाए आईं नजर

इसके लिए बहुत जल्द ही शूटिंग शुरू करने को लेकर और नई गाइडलाइन्स को लेकर प्रोडयूसर बॉडी, चैनल और सबके साथ वर्चुअल मीटिंग होगी.

loading…