अभी अभी: इन राज्य मे कोरोना से मचा हाहाकार, तत्काल हाई अलर्ट जारी, लापरवाही पर होगी जेल

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के खिलाफ जारी जंग को लगभग एक साल हो गए हैं। भारत में कोरोना का टीकाकरण भी शुरू हो चुका है। लेकिन एक बार फिर कोरोना की वापसी की लहर ने लोगों को खौफ में दाल दिया है। देश में 91 जिलों में कोरोना के नए मरीज मिले है। इनमें से 34 जिले महाराष्ट्र के ही हैं। इसके अलावा कर्नाटक के 16, हरियाणा, पंजाब, छत्तीसगढ़, गुजरात और बिहार के 4-4, जबकि केरल के दो जिले शामिल हैं। यहां बीते कुछ दिनों से रोजाना संक्रमितों की संख्या ठीक होने वाले मरीजों से ज्यादा है।

एक दिन में 4,468 एक्टिव मामले
रविवार को देश में 14,278 नए मरीज मिले। 9,715 ठीक हुए, जबकि 83 की मौत हो गई। 4,468 एक्टिव केस बढ़े, जो 87 दिन में सबसे ज्यादा हैं। इससे पहले 25 नवंबर को 7,234 एक्टिव केस बढ़े थे। एक्टिव केस यानी जिन मरीजों का इलाज चल रहा है। देश में अब तक 1 करोड़ 10 लाख से ज्यादा लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 1 करोड़ 6 लाख 97 हजार लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 1 लाख 56 हजार 422 मरीजों की मौत हो गई। अभी 1 लाख 47 हजार 156 मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है।

वैक्सीनेशन में तेजी लाने का आदेश
केंद्र ने सभी राज्यों को पत्र लिखकर वैक्सीनेशन में तेजी लाने को कहा है। अभी कई राज्यों में हफ्ते में सिर्फ दो दिन ही वैक्सीनेशन हो रहा है। अभी फ्रंटलाइन और हेल्थ केयर वर्कर्स को ही वैक्सीन लगाई जा रही है। मार्च से 50 साल से अधिक उम्र के सभी और 50 साल से कम उम्र के उन नागरिकों को भी वैक्सीन लगाई जाएगी जिन्हें अन्य बीमारियां भी हैं। केंद्र ने इसके लिए भी तैयार रहने को कहा है।

नागपुर में स्कूल-कॉलेज 7 मार्च तक बंद रहेंगे
कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए नागपुर में 7 मार्च तक सभी स्कूल, कॉलेज और कोचिंग इंस्टीट्यूट्स बंद रहेंगे। मेन मार्केट भी वीकेंड पर बंद रहेगा। होटल्स, रेस्टोरेंट्स को 50% की क्षमता के साथ चलाने का आदेश दिया गया है। शादीघर 25 फरवरी के बाद से 7 मार्च तक बंद रहेंगे।

महाराष्ट्र के मंत्री छग्गन भुजबल कोरोना संक्रमित मिले हैं। राज्य सरकार ने सूचना जारी कर बताया कि अभी उनकी हालत ठीक है। कोरोना नियमों का उल्लंघन करने पर मुंबई के तिलक नगर पुलिस स्टेशन में एक FIR दर्ज की गई है। यहां छेदानगर जिमखाना में एक शादी समारोह आयोजित हुई थी। इसमें 200 से ज्यादा लोग शामिल हुए थे और सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन भी नहीं कर रहे थे।

महाराष्ट्र में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों ने राज्य सरकार की चिंता बढ़ा दी है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आज यानी सोमवार से राज्य में भीड़-भाड़ वाले सारे राजनीतिक और धार्मिक कार्यक्रमों पर पाबंदी लगाने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि हालात नहीं संभले तो राज्य में फिर लॉकडाउन लगाया जा सकता है।

उद्धव ठाकरे ने रविवार को लोगों को 8 दिन का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि जो लोग लॉकडाउन नहीं चाहते, वे मास्क जरूर पहनें। निजी फर्मों से भी वर्क फ्रॉम होम पॉलिसी अपनाने को कहा गया है, ताकि भीड़ से बचा जा सके। उन्होंने कहा कि अगले 8 से 15 दिनों में हमें पता चल जाएगा कि यह कोरोना की नई लहर है या नहीं?

पुणे जिला प्रशासन ने भी नाइट कर्फ्यू लगा दिया है
पुणे जिला प्रशासन ने भी नाइट कर्फ्यू लगा दिया है। यहां रात 11 से सुबह 6 बजे तक लोगों के घर से निकलने पर रोक लगा दी गई है। केवल इमरजेंसी में ही लोग बाहर निकल सकेंगे। स्कूल-कॉलेज 28 फरवरी तक बंद कर दिए गए हैं।

महाराष्ट्र के अमरावती मंडल के 5 अन्य जिलों अमरावती, अकोला, वाशिम, बुल्ढाड़ा और यवतमाल में भी कई तरह की पाबंदियां लगा दी गई हैं। यहां आवश्यक सामानों की दुकानें छोड़कर बाकी सारी दुकानें बंद रखने का आदेश दिया गया है। स्कूल-कॉलेज, कोचिंग संस्थान भी बंद रहेगा। लोगों को सुबह नौ से शाम 5 बजे तक ही सामन खरीददारी की छूट मिलेगी।

बढ़ते मामलों की वजह से भारत एक बार फिर दुनिया के उन 15 देशों की सूची में शामिल हो गया है, जहां कोरोना के सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं। मतलब ऐसे मरीज जिनका इलाज चल रहा है, बाकी या तो ठीक हो चुके हैं या फिर उनकी मौत हो गई है। भारत इस सूची में 15वें नंबर पर आ गया है। 30 जनवरी को पुर्तगाल, इंडोनेशिया और आयरलैंड को पीछे छोड़ते हुए 17वें नंबर पर पहुंच गया था।

पूरे देश में हर दिन होने वाली टेस्टिंग में पिछले एक महीने में 5 लाख की गिरावट दर्ज की गई है। दिसंबर तक जहां, हर दिन 11 लाख के करीब लोगों की जांच होती थी, वहां अब औसतन 6 लाख लोगों का टेस्ट हो रहा है। राज्यों में कोरोना केस बढ़ने का एक बड़ा कारण टेस्टिंग की संख्या कम करना भी है। अब फिर से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन सभी 9 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की सरकारों को चिट्ठी लिखकर टेस्टिंग बढ़ाने का आदेश दिया है।

यहां जानें क्या हाल हैं इन 6 राज्यों का महाराष्ट्र में लापरवाही पर होगी FIR
राज्य में रविवार को 6,971 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। 2,417 मरीज ठीक हुए और 35 की मौत हो गई। अब तक 21 लाख 884 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं, इनमें 19 लाख 94 हजार 997 लोग ठीक हो चुके हैं। 51 हजार 788 ने इस महामारी से जान गंवाई है। 52 हजार 956 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है।

केरल में 58,316 का इलाज जारी
राज्य में रविवार को 4,070 नए संक्रमितों की पहचान हुई। 4,345 मरीज ठीक हुए और 15 संक्रमितों ने जान गंवाई। यहां अब तक 10 लाख 34 हजार 658 लोग संक्रमित हुए हैं। इनमें से 9 लाख 71 हजार 975 मरीज ठीक हो चुके हैं। 4,090 ने जान गंवाई है, जबकि 58,316 का इलाज चल रहा है।

मध्यप्रदेश में 299 पॉजिटिव
यहां रविवार को 299 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। 238 मरीज ठीक हुए और चार की मौत हो गई। अब तक 2 लाख 59 हजार 427 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 2 लाख 53 हजार 522 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 3,854 मरीजों की मौत हो गई। 2,051 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है।

यहां रविवार को 283 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। 264 लोग ठीक हुए और एक की मौत हुई। अब तक 2 लाख 67 हजार 104 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 2 लाख 61 हजार 9 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 4405 मरीजों की मौत हो चुकी है। 1,690 मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है।

राजस्थान भी कोरोना की चपेट में
राज्य में रविवार को 82 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। 137 लोग ठीक हुए। अब तक 3 लाख 19 हजार 543 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 3 लाख 15 हजार 513 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 2,785 मरीजों की मौत हुई है। 1,245 मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है।

दिल्ली का हाल
यहां रविवार को 145 नए मरीज मिले और 97 ठीक हुए। दो की मौत भी हुई। यहां अब तक 6 लाख 37 हजार 900 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 6 लाख 25 हजार 929 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 10 हजार 900 मरीजों की मौत हो गई। 1071 का इलाज चल रहा है।

Special for You