गायब Black Hole: वैज्ञानिकों के छूटे पसीने, भयानक तबाही के मिले संकेत

नई दिल्ली: अंतरिक्ष से एक बेहद परेशान करने वाली खबर सामने आई है। दरअसल, यहां एक विशालकाय ब्लैक होल गायब हो गया है। जिसने वैज्ञानिकों की परेशानी बढ़ा कर रखी दी है। इस ब्लैक होल को ढूंढने के लिए वैज्ञानिक काफी मशक्कत कर रहे हैं। यही नहीं अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा तो इसे खोजने के लिए NASA की चंद्र एक्स-रे ऑब्जर्वेटरी और हबल स्पेस टेलिस्कोप का इस्तेमाल कर रही है। बता दें कि गायब हुए ब्लैक होल का वजन सूर्य के वजन से करीब 100 अरब गुना ज्यादा है।

अब तक नहीं चला है पता
वैज्ञानिक लगातार इस ब्लैक होल को खोजने में लगे हुए हैं, लेकिन अब तक इसका कोई पता नहीं चल सका है। जानकारी के लिए आपको बता दें कि ब्लैक होल अंतरिक्ष में वो जगह है जहां पर भौतिक विज्ञान का कोई नियम काम नहीं करता है। इसका गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र इतना पावरफुल होता है कि इसके खिंचाव से कुछ भी नहीं बचता। यहां तक कि इसमें अगर प्रकाश भी जाता है तो फिर बाहर नहीं निकल सकता है।

सूरज से कई गुना अधिक होता है वजन
बताया जा रहा है कि ब्लैक होल गैलेक्सी कल्टर Abell 2261 में होना चाहिए था, लेकिन ये वहां से गायब है। हर एक गैलेक्सी कें सेंटर में एक विशालकाय ब्लैक होल होता है। जिसका वजन सूरज से कई अरबों गुना अधिक होता है। वैज्ञानिक इस गायब ब्लैक होल को ढूंढने के लिए 1999 से लेकर 2004 के डाटा को एनालाइज कर रहे हैं, लेकिन अब तक ब्लैक होल का कोई पुख्ता सबूत हाथ नहीं लग सका है।

ये भी हो सकती है वजह
इस संबंध में अमेरिका में मिशिगन यूनिवर्सिटी की एक टीम का कहना है कि Abell 2261 में ब्लैक होल के ना होने की वजह इसका गैलेक्सी के केंद्र से बाहर चले जाना भी हो सकता है। ऐसा कहा जा रहा है कि दो छोटी गैलेक्सी के मिलने के चलते बड़ी गैलेक्सी बनी होगी, जिसके कारण ब्लैक होल नहीं नजर आ रहा है। बताया जा रहा है कि अब तक वैज्ञानिकों को ब्लैक होल के रीकोइलिंग के लिए भी कोई सबूत नहीं मिले हैं।

Special for You