ब्लैकमेल कर वर्षों तक रेप, शादी के 8 महीने बाद पति को मिला पत्नी का पॉर्न वीडियो, फिर…

इटावा: उत्तर प्रदेश के इटावा स्थित थाना फ्रेंड्स कॉलोनी क्षेत्र के दतावली की एक पीड़िता पुलिस से न्याय मांगते-मांगते अब थक चुकी है। परिवार का कहना है कि अब तो आत्महत्या के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है। प्रशासन की लापरवाही के बीच रेप पीड़िता ने कई बार पुलिस विभाग के अधिकारियों की चौखट पर न्याय की गुहार लगाई लेकिन अब तक उसे न्याय के बजाए सिर्फ आश्वासन दिया जाता है। पीड़िता इस बात से इतना परेशान हो चुकी है कि वह अब आत्महत्या को मजबूर है।

हैरानी वाली बात तो यह है कि आरोपी पीड़ित महिला का वीडियो पॉर्न साइट्स पर अपलोड करने के बाद खुलेआम घूम रहे हैं। मूलरूप से फर्रुखाबाद की रहने वाली पीड़िता की 14 अक्टूबर 2015 को इटावा के एक परिवार में शादी हुई थी। सब कुछ ठीकठाक चल रहा था। शादीशुदा जिंदगी के बीच अचानक एक ऐसी घटना हुई, जिससे पति सकते में आ गया। दरअसल 8 महीने पहले पति ने एक वीडियो पॉर्न साइट पर देखा। इसमें उसकी पत्नी नजर आई।

वीडियो देखने के बाद उसके होश फाख्ता हो गए। जब इस बात की जानकारी महिला को उसके पति ने दी तो पीड़िता ने पूरी आपबीती सुनाई। उसने बताया कि उसके साथ पिछले कई साल से बलात्कार किया जाता रहा है। इसके बाद पीड़िता के पति ने उसे न्याय दिलाने की ठान ली। परिवार जब पुलिस के पास पहुंचा तो वहां खाकीवाले उसे ही शक की निगाहों से देखने लगे। फिर न्याय के नाम पर अबतक महिला और उसके पति महज आश्वासन मिल रहा है।

पुलिस पर उठाए सवाल
पुलिस के मुताबिक, पीड़िता के वीडियो जनपद फर्रुखाबाद में बनाए गए हैं तो मुकदमा वहीं लिखना चाहिए। पीड़िता का कहना है कि ब्लैकमेल करके बलात्कार और उसके वीडियो इटावा थाना फ्रेंड्स कॉलोनी के दतावली स्थित मकान में बनाए गए हैं। पुलिस मुकदमा इटावा जनपद में न लिखकर फर्रुखाबाद क्यों भेजना चाहती है।
आत्मदाह की दी चेतावनी
पीड़िता का यह भी कहना है, ‘फर्रुखाबाद में मुकदमा लिखा तो वे लोग मुझे और मेरे पति को मार देंगे। घटना मेरे साथ जिले में भी हुई है। पुलिस मुकदमा नहीं लिख रही। पुलिस भी आरोपियों से मिली हुई है।’ पीड़िता और उसके पति का कहना है कि अगर न्याय नहीं मिला तो अब अपने पति और दो छोटे-छोटे बच्चों के साथ आत्मदाह कर लेंगे।

Special for You