आखिर लोग पैर में काला धागा क्यों बांधते हैं, रहस्य जानकर चौंक जाएंगे आप

काले धागे को पैर में बांधने की परंपरा हमारे प्राचीन इतिहास से आती है. शास्त्रों के अनुसार, काला धागा पहनने के कई फायदे हैं. विशेष रूप से जब पैर में बांधा जाता है, पैर में काला धागा बांधने से यह मनुष्य के जीवन में अद्भुत बदलाव लाता है. आज भी, जब किसी के घर में बच्चा पैदा होता है, तो उसके पैरों में काला धागा बांधने का रिवाज है. लोगों का मानना है कि इसे पहनने से बच्चे को बुरी नजर से बचाया जा सकता है.

अक्सर लोग काले धागे को एक फैशन के रूप में पहनते हैं. वहीं, कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इसे किसी दूसरे व्यक्ति के कहने पर पहनते हैं. इसके पहनने के कई फायदे हैं. हालांकि, सकारात्मक प्रभाव सुनिश्चित करने के लिए काला धागा पहनते समय कुछ सावधानियां बरतने की आवश्यकता होती है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार काला धागा पहनने के कुछ नियम होते हैं. इन नियमों का पालन न करने पर कुछ बुरे प्रभाव भी पड़ सकते हैं, इसलिए काला धागा बांधते समय इन नियमों का पालन जरुर करें.

काले धागे को हमेशा 9 गांठ बांधने के बाद ही पहनना चाहिए.
जिस हाथ या पैर में काला धागा बंधा हो, उस रंग के किसी अन्य धागे को न बांधें.
काले धागे को केवल शुभ मुहूर्त में बांधना चाहिए. यदि आप शुभ समय नहीं पा रहे हैं, तो आप इसके लिए किसी ज्योतिषी विशेषज्ञ से संपर्क कर सकते हैं.
काला रंग शनि ग्रह का है. इसलिए, काला धागा पहनने से आपकी कुंडली में शनि दोष के ग्रह की स्थिति कमजोर हो जाती है.
इसे पहनने के बाद हर दिन गायत्री मंत्र का जप करना महत्वपूर्ण है. ऐसा करने से इसका प्रभाव बढ़ जाएगा. हालाँकि, इस बात का ध्यान रखें कि जब भी आप गायत्री मंत्र का पाठ करें, एक निश्चित समय पर ही करें.
आप अपने घर के दरवाजे पर नींबू के साथ काला धागा बांध सकते हैं. इस तरह, नकारात्मक ऊर्जा घर में प्रवेश नहीं करती है.
जिन बच्चों की प्रतिरोधक क्षमता बहुत कम होती है, काला धागा उनके शरीर को बीमारियों से लड़ने की ताकत देता है.
काले रंग में गर्मी को अवशोषित करने की शक्ति होती है. इस प्रकार, यह नकारात्मक ऊर्जाओं से बचाने के लिए ढाल के रूप में कार्य करता है. यह मनुष्यों को शनि दोष के नकारात्मक प्रभावों से बचाता है. खासकर, जब इसे पूरी श्रद्धा के साथ पैर में बांधा जाता है, तो आपके जीवन की सभी समस्याएं दूर हो जाती हैं.

लोगों की बुरी नजर से बचने के लिए काले धागे को हाथ, पैर, गले आदि में भी पहना जाता है. यह अपने अंदर की सभी नकारात्मक ऊर्जा को अवशोषित करने की क्षमता रखता है ताकि बुरी ऊर्जाएं व्यक्ति को प्रभावित न करें. यदि आप लोगों की बुरी नजर से बचना चाहते हैं, तो काला धागा धारण कर अपनी रक्षा कर सकते हैं.

नोट- इस लेख में दी गई तमाम जानकारियों को सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है. इसकी वास्तविकता, सटीकता और विशिष्ट परिणाम की हम कोई गारंटी नहीं देते हैं. इसके अलावा इस लेख में बताए गए टिप्स पूरी तरह कारगर से होंगे या नहीं इसका भी हम कोई दावा नहीं करते हैं.

Special for You