भांग की गोली खिला पति ने पत्नी के किये इतने टुकड़े-टुकडे, कि…

अलवर: राजस्थान के अलवर में एक पति ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी और फिर शव के टुकड़े कर अलग-अलग जगह फेंक दिया। पुलिस जांच में इस बात का खुलासा हुआ है। बताया जा रहा है कि पति को उसकी पत्नी के चरित्र पर शक था, जिस वजह से उसने उसकी हत्या की साजिश रची। अलवर जिले की भिवाड़ी पुलिस ने इस ब्लाइंड मर्डर का खुलासा कर दिया है। साथ ही पुलिस ने मृतका कोमल गुप्ता के पति अमित गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया है।

पिछले साल ही हुई थी शादी
जानकारी के मुताबिक, पिछले साल ही आरोपी ने कोमल से दूसरी शादी की थी। अमित को शक था कि उसकी पत्नी के अवैध संबंध थे। बताया जा रहा है कि आरोपी इससे पहले साल 2013 में रेप के बाद हत्या करने के मामले में दोषी पाया गया था। उसने 2013 में महिला होमगार्ड दोस्त की रेप के बाद हत्या कर दी थी। जिसके बाद उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी। लेकिन फिलहाल हाईकोर्ट के आदेश पर वो जमानत पर बाहर चल रहा था।

14 अगस्त को मिला था कोमल का शव
भिवाड़ी कस्बे में 14 अगस्त 2020 को एक महिला के शव के धड़ और हाथ-पैर के अलग-अलग टुकड़े मिले थे। इस मामले में पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि मृतक महिला की पहचान कोमल गुप्ता के रूप में हुई, जिसके पति अमित गुप्ता निवासी भरतपुर ने ही उसकी हत्या की थी। पुलिस के मुताबिक, यह हत्या पत्नी के पूर्व पति के भांजे से अवैध संबंधों के शक में की गई थी।

मृतका कोमल गुप्ता अपने पति अमित गुप्ता के साथ भिवाड़ी में फैक्ट्री में काम किया करती थी। दोनों सांथलका गांव में किराये के मकान में रहते थे। अमित ने बीते साल दिसंबर में उत्तर प्रदेश के कानपुर की रहने वाली कोमल से दूसरी शादी की थी। कोमल का उसके पहले पति से तलाक हो गया था। शादी के बाद अमित गुप्ता ईमित्र की दुकान चलाता था, लेकिन कोरोना के चलते यह दुकान बंद हो गई।

पहले पति के भांजे से होती थी बातचीत
जिसके बाद अमित मार्च- अप्रैल 2020 में भरतपुर छोड़कर अलवर जिले के भिवाड़ी में आ गया और दोनों सांथलका में किराए के मकान में रहने लगे। अमित गुप्ता भिवाड़ी की सेंट गोबेन कंपनी में काम करता था और उसकी पत्नी कोमल क्लच वायर कंपनी में काम करती थी। इस बीच कोमल अपने पहले पति संजय के भांजे लाली गुप्ता से फोन पर बात करती थी। इस बात को लेकर दोनों में झगड़ा भी होने लगा था।

भांग की गोली खिला की हत्या
वहीं कोमल ने एक दिन (11 अगस्त, 2020) को अमित को कमरे के गेट से बाहर निकाल दिया था, जिसके बाद अमित का शक गहरा गया था। अवैध संबंधों के शक के चलते अमित ने पत्नी को 12 अगस्त 2020 की रात को जबरदस्ती भांग की गोली खिलाकर बेहोश कर दिया और फिर उसके हाथ-पैर बांधकर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। उसके बाद पत्नी के शव के टुकड़े-टुकड़े कर अलग-अलग जगह पर फेंक दिया था। इसके बाद आरोपी मौके से फरार हो गया।

पुलिस पूछताछ में पता चला है कि साल 2013 में आरोपी ने भरतपुर में अपनी महिला होमगार्ड दोस्त को घर बुलाकर उसके साथ बलात्कार किया और फिर बाद में उसकी हत्या कर दी। इस मामले में उसके खिलाफ मामला दर्ज हुआ और फिर मामले में आरोपी को कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। आरोपी करीब डेढ़ साल तक भरतपुर की सेवर जेल में रहा था, लेकिन मई 2014 से राजस्थान हाई कोर्ट के आदेश पर जमानत पर चल रहा था।

Special for You