खांसी आने पर अगर निकल जाता है पेशाब, तो इस गंभीर बीमारी के शिकार हैं आप

क्‍या आपके साथ भी ऐसा होता है कि हल्‍का सा खांसते ही आपका यूरीन निकल जाता है अगर आपका जवाब हां है तो आज हम इस लेख में आपको बताने जा रहे हैं कि ऐसा क्‍यों होता है और क्‍या है इसके संकेत? मूत्र असंयम कि मुख्य रूप से बच्चे के जन्म के बाद महिलाओं को प्रभावित करता मूत्राशय पर नियंत्रण का एक नुकसान से मूत्र रिसाव है।

लेकिन यह किसी को भी हो सकता है। मूत्र असंयम एक तरह से अपमानजनक बिमारी के रूप में देखा जाता है जिस कारण महिलाओं शर्मिंदा होना पड़ता है। क्‍योंकि इस बिमारी में कोई हल्‍का सा खांसता है तो ऐसा हो जाता है। ये पूरी तरह से नहीं निकलता लेकिन थोड़ा बहुत तो निकल जाता है जिससे व्‍यक्ति को शार्मिदगी महसूस होती है और इसी समस्‍या के कारण वो घर से बाहर जाने में घबराती है।

इसके लिए कई शब्‍दों का प्रयोग किया जाता है ‘मूत्र असंयम’ और चिकित्सीय शब्दों में माने तो इसे ‘इन्कोन्टीनेन्स’ कहा जाता है। जिसमें मूत्रमार्ग से आपकी मर्जी के खिलाफ पेशाब निकलना और आपका उसे रोक पाने से असमर्थ रहना। कुछ महिलाएँ अपनी जीवन शैली में परिवर्तन ला कर स्वयं को इस समस्या के अनुकूल ढाल लेती हैं। बहुतों में इस समस्या को कम किया जा सकता है। इसके पूरी तरह ठीक न होने की स्थिति में भी, अनेकों तरीकों से पेशाब की निकल जाने की इस समस्या से निपटा जा सकता है।

वैसे तो ये बिमारी ज्‍यादातर महिलाओं में ही पायी जाती है इसका कारण गर्भावस्‍था और शिशु के जन्‍म के कारण होता है। इसके अलावा उम्र या सर्जरी या डिलीवरी, बढ़े हुए प्रोस्टेट, रजोनिवृत्ति, ओवर-एक्टिव ब्‍लैडर, मूत्राशय की पथरी, यूरीन मार्ग में इंफेक्‍शन और कब्‍ज के कारण पेल्विक फ्लेार की मसल्‍स कमजोर होने जैसे कई कारक जिम्‍मेदार होते हैं। यह किसी भी उम्र में हो सकता है तो आइए जानते हैं इसके क्‍या है संकेत ?

तनाव
तनाव भी इसका एक कारण होता है देखा जाता है कि ज्‍यादातर महिलाएं तनाव में रहती है जिससे उनको इस बिमारी का सामना करना पड़ता है। पेट की निचली मांसपेशियों पर अत्‍यधिक दबाव बनने के कारण अपने मूत्र पर नियंत्रण नहीं रहता और पेशाब निकल जाता है। यह व्यायाम, छीकने, हंसने अथवा खांसने के समय भी हो सकता है। महिलाएं जब गर्भावस्था के दौरान होती है तो उस समय महिलाओं के श्रोणि क्षेत्र की मांसपेशियों पर अधिक दबाव पड़ता है जिसके कारण ऐसा होता है। अधिक वजन, कुछ दवायें और प्रोस्टेट सर्जरी भी इसका कारण हो सकता है।

ओवरफ्लो
अगर आपका बार बार मन होता है पेशाब जाने का करता है तो इसे ओवरफ्लो असंयमित कहते है। ऐसे में आपका मूत्राशय पूरा भरने के बाद व्यक्ति को मूत्र लीक होने लगता है जिससे व्‍यक्ति को बार बार पेशाब जाने का मन करता है ये बिमारी महिलाओं से ज्‍यादा पुरूषों में देखने को मिलती है। ये मूत्राशय की कमजोर मांसपेशियां, ट्यूमर जैसी समस्‍याओं के कारण होता है जिससे मूत्र पूरी तरह प्रवाहित नहीं हो पाता।

तेजी से यूरीन आना
अक्‍सर कई बार कुछ लोगों में ऐसा देखा गया है कि एकदम से जोर से यूरिन का प्रेशर बन जाने लोग अपना यूरीन कंट्रोल नहीं कर पाते और कुछ बूंदे लीक हो जाती है। ऐसा डायबिटीज के कारण होता है। अगर आपको इसमें से कोई भी संकेत नजर आए तो आप तुरंत डॉक्‍टर से संपर्क करें।

Special for You