आईपीएल के लिए भारत ने जारी की सख्त कोरोना गाइडलाइंस, देंखे विस्तार से

नई दिल्ली। यूएई में कोरोना के बीच 19 सितंबर से 10 नवंबर तक आईपीएल होना है। इसको लेकर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने स्टैंडर्ड ऑपरेंटिंग प्रोसिजर (एसओपी) यानि गाइडलाइंस जारी कर दी है। इसके मुताबिक, सभी 8 टीमों को अलग-अलग होटल में रुकना होगा। खिलाड़ी रूम से बाहर नहीं निकल सकेंगे। कमरे में सिर्फ रूम सर्विस को आने की मंजूरी होगी।

बायो-सिक्योर माहौल में होने वाले इस टूर्नामेंट में गाइडलाइंस के तहत सभी खिलाड़ी साथ बैठकर खाना नहीं खा सकेंगे। यदि किसी खिलाड़ी या स्टाफ ने बायो-सिक्योर नियम तोड़ा, तो सख्त सजा मिलेगी।

यूएई जाने से पहले भारतीय खिलाड़ियों के 5 टेस्ट होंगे
यूएई आने से पहले हर एक खिलाड़ी और स्टाफ का 5 बार कोरोना टेस्ट होगा। सभी खिलाड़ी दो टेस्ट अपने शहर में कराएंगे। निगेटिव रिपोर्ट के बाद टीम से जुड़ेंगे। यहां 14 दिन क्वारैंटाइन के दौरान 3 टेस्ट होंगे। इसके बाद यूएई जाने की अनुमति मिल सकेगी। विदेशी खिलाड़ियों को भी यूएई में आने से पहले 14 दिन क्वारैंटाइन में रहना होगा। साथ ही दो निगेटिव रिपोर्ट के बाद ही वे यूएई के लिए रवाना हो सकेंगे।

टूर्नामेंट के दौरान हर 5वें दिन कोरोना टेस्ट होगा
यूएई में खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ को ट्रेनिंग में शामिल होने से पहले 7 दिन क्वारैंटाइन रहना होगा। इस दौरान कोई भी होटल में एक-दूसरे से नहीं मिल सकेगा। इस दौरान पहले, तीसरे और छठे दिन सभी का कोरोना टेस्ट होगा। तीन निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद ही वे बायो-सिक्योर माहौल में एंट्री और ट्रेनिंग कर सकेंगे। इसके बाद टूर्नामेंट के दौरान हर 5वें दिन कोरोना टेस्ट होगा।

खिलाड़ियों को परिवार साथ ले जाने की मंजूरी फ्रेंचाइजी देगी
खिलाड़ी अपने साथ परिवार को लेकर जा सकते हैं या नहीं, यह फैसला फ्रेंचाइजी ही कर सकती हैं। यदि परिवार साथ जाता है, तो उन्हें भी सख्त प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। परिवारों को भी बायो-सिक्योर माहौल के बाहर किसी से मिलने की अनुमति नहीं होगी। साथ ही अन्य खिलाड़ियों और उनके परिवारों से बातचीत के दौरान मास्क लगाना होगा और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।

बायो-सिक्योर नियम तोड़ने पर दो टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आना जरूरी
परिवार के लोग खिलाड़ी के साथ बस में सफर नहीं कर सकेंगे। ट्रेनिंग और मैच के दौरान स्टेडियम में भी एंट्री नहीं मिलेगी। बायो-सिक्योर का उल्लंघन करने वाले को 7 दिन के लिए क्वारैंटाइन रहना होगा। छठे और सातवें दिन कोरोना टेस्ट होगा। रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही वे वापस बायो-सिक्योर माहौल में लौट सेकेंगे।

20 अगस्त से पहले यूएई नहीं जा सकेंगी टीमें
बीसीसीआई ने सभी टीमों को 20 अगस्त के बाद ही यूएई जाने की अनुमति दी है। ताकि अगर यूएई सरकार की ओर से कोरोना को लेकर कोई नई गाइडलाइंस दी जाती है तो उसका पालन हो सके।

Special for You