खाया मसाला मोमोज और फट गई आंत, जानें क्यों हुआ ऐसा

एक बुजुर्ग ने रात को मसाला मोमोज खाए और अचानक पेट में तेज दर्द की समस्या के साथ उनके पेट में ब्लास्ट जैसा अनुभव हुआ। डॉक्टर्स को दिखाया तो पता चला कि उनकी आंत फट गई है…

ऐसे केस कम ही होते हैं, जब शरीर का कोई अंग इस तरह का रिऐक्शन देता है। क्योंकि पेट में गैस बनना एक आम समस्या है, गैस बनने के बाद सिर दर्द, पेट दर्द या शरीर के अन्य हिस्सों में दर्द होना बहुत सामान्य है। लेकिन इस तरह आंत फटने का कारण क्या हो सकता है? यह जानने के लिए हमें डॉक्टर चरनजीत सिंह से बात की। डॉक्टर सिंह पिछले 30 वर्षों से होम्योपेथी के माध्यम से मरीजों का इलाज कर रहे हैं। साथ ही राजस्थान की टांटिया यूनिवर्सिटी में होम्योपेथी डिपार्टमेंट के हेड भी हैं।

डॉक्टर सिंह का कहना है कि इस तरह से आंत फटने की घटना एकाएक नहीं होती है। इस तरह की दिक्कतों के पीछे कोई लंबी और पुरानी बीमारी होती है। हां कुछ खास तरह के केस में ऐसी घटना तब घट सकती है, जब फूड बहुत अधिक इंफेक्शियस हो। अगर हम मोमोज से जुड़ी इस घटना की ही बात करें तो यह साफ है कि पीड़ित व्यक्ति पिछले करीब एक साल से आंत की परेशानियों का सामना कर रहे थे।

क्यों होती है पाचन की समस्या?
-इसलिए यह कहना सही नहीं होगा कि सिर्फ मोमोज खाने के बाद ही उन्हें इस तरह की समस्या हुई है। हां, एक स्वस्थ व्यक्ति में अगर इस तरह की समस्या होती तो उस स्थिति में हम यह बात एक हद तक मान सकते थे। हम ऐसा इसलिए मान सकते थे क्योंकि हाइली इनफेक्टेड फूड खाने के बाद कुछ खास स्थितियों में गैसगैंगरीन की समस्या हो जाती है।

-हालांकि ऐसे केस तभी देखने को मिलते हैं, जब हाइली इंफेक्टेड नॉनवेज फूड खाया गया हो। क्योंकि ऐसी शारीरिक समस्या के लिए जिम्मेदार वैक्टीरिया क्लस्ट्रीडियम विलची (clostridium welchii) और क्लस्ट्रीडियम बॉटोलिनिकम (Clostridium botulinum) हाइली इंफेक्टेड नॉनवेज फूड में ही पनपते हैं।

क्यों डिवेलप होती है पुरानी पैथॉलजी?
-डॉक्टर सिंह कहते हैं कि आंत में ब्लास्ट की समस्या होना इस बात का साफ संकेत है कि भोजन और दिनचर्या को लेकर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जो लोग सही जीवनशैली का पालन नहीं करते हैं, उन्हें पाचन से जुड़ी समस्याएं घेरने लगती हैं। इस कारण आंत में अल्सर हो जाते हैं, जिनका समय रहते उपचार ना कराया जाए तो ये बड़े घावों के रूप में परिवर्तित हो जाते हैं।

मसालेदार भोजन के नुकसान
किस तरह के भोजन से होती है समस्या?
-भोजन से जुड़ी जानकारी देते हुए डॉक्टर सिंह का कहना है कि मसाले (Spices) हमारे पाचन को सही रखने और स्वाद को बढ़ाने के लिए हैं। लेकिन अधिक मात्रा में और गलत तरीके से मसालों का सेवन हमारे पाचन और हमारी आंतों के लिए कितना हानिकारक हो सकता है, यह आप इस घटना से समझ सकते हैं।

अधिक स्पाइसी फूड खाने से दिक्क्त
-हमने डॉक्टर सिंह से पूछा कि आखिर अधिक मसाले खाने की स्थिति में शरीर में किस तरह की समस्याएं हो सकती हैं? इस पर इनका कहना है कि अधिक मात्रा में मसालेदार भोजन खाने से पेट में जलन,
– गैस
– अपच
– नोजिया
-उल्टी आना
-पॉटी में जलन होना
-मोशन के साथ ब्लड आना
-पेशाब में जलन होना
-बबासीर की समस्या होना
-नाक में खून आना जैसी दिक्कतें हो सकती हैं।

आंत में जख्म या ब्लास्ट होना

समस्या बाद में बनती है बड़ी
-डॉक्टर सिंह कहते हैं कि कोई भी बीमारी एकाएक इतनी बड़ी नहीं हो जाती है। जिन लोगों को अधिक मसाले खाने पर दिक्कतें हो रही होती हैं, उन्हें प्राथमिक स्तर पर पेशाब में जलन होना, पाचन ठीक से ना होना, नींद कम आना और सांस से जुड़ी दिक्कतें होने की समस्या होती है।

बचाव के तरीके
-इस तरह की समस्याओं से बचने का सही तरीका तो यही है कि आप हर दिन बहुत अधिक मसालों का उपयोग ना करें। टेस्ट के लिए कभी-कभी ऐसा करने में कोई बुराई नहीं है लेकिन तब भी सीमित मात्रा का ध्यान रखें।

-अपच, नींद ना आना और थकान रहना ऐसी समस्याएं हैं, जो ना केवल शारीरिक स्तर पर बल्कि मानसिक स्तर पर भी नुकसान पहुंचाती हैं। इससे व्यक्ति के सोचने-समझने और निर्णय लेने की क्षमता प्रभावित होती है। क्योंकि नींद ना आना अपने आप में एक गंभीर समस्या है।

यह भी जान लें
-मोमोज खाने के बाद आंत फटने का यह मामला चीन के जियांग्सू प्रांत का है। जहां एक 63 वर्षीय व्यक्ति को तेज मिर्ची वाले मोमोज खाने के बाद अचानक पेट में दर्द शुरू हुआ, तेजी से पसीना आने लगा और अचानक उन्हें अपने पेट में धमाके जैसा अनुभव हुआ। ये पिछले करीब 1 साल से आंत की बीमारियों से जूझ रहे थे।

Special for You