अभी अभीः सरकार ने की स्कूल-कालेज खोलने कीे तैयारी, जाने पूरा प्लान

गुवाहाटी | कोरोना वायरस महामारी की वजह से मार्च के अंत से ही बच्चे स्कूल से दूर हैं। देश में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने अनलॉक 3 में भी शिक्षण संस्थानों को 31 अगस्त तक बंद रखने का ऐलान किया है। इस बीच असम सरकार ने स्कूलों और शिक्षण संस्थानों को 1 सितंबर से दोबारा खोलने का प्लान तैयार किया है। हालांकि, अंतिम फैसला केंद्र सरकार के निर्देश पर निर्भर करता है। असम के शिक्षा मंत्री हिमंत विश्व सरमा ने शनिवार को यह जानकारी देते हुए पूरा प्लान बताया।

सरमा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ”सभी शिक्षकों और कर्मचारियों को पहले टेस्ट कराना होगा। 23 अगस्त से 30 अगस्त के बीच टेस्ट कराने के लिए शिक्षा और स्वास्थ्य विभाग समन्वय करेंगे।” उन्होंने आगे कहा, ”हमने स्कूलों को दोबारा खोलने के लिए शुरुआती प्लान तैयार किया है, लेकिन पहले अभिभावकों और अन्य हितधारकों से चर्चा होनी है और केंद्र सरकार के निर्देशों के आधार पर ही लागू किया जाएगा।”

उन्होंने कहा कि कक्षा चार तक के स्कूल सितंबर अंत तक बंद रहेंगे। शिक्षा मंत्री ने कहा कि 5वीं से 8वीं तक की क्लास खेल के मैदान या अन्य खुले स्थानों पर होगी। क्लास को 15 बच्चों के सेक्शन में बांटा जाएगा और एक बार में इतने ही स्टूडेंट होंगे। 9वीं से 11वीं कक्षा तक के छात्र सप्ताह में दो दिन क्लासरूम में अंदर पढ़ाई करेंगे। एक बार में 15 स्टूडेंट ही क्लास में मौजूद होंगे। 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट सप्ताह में चार दिन क्लास जाएंगे। एक दिन में तीन घंटे की पढ़ाई ही होगी।

शिक्षा मंत्री ने कहा, ”अधिकतम सोशल डिस्टेंशिंग का पालन करे लिए प्रयास किए जाएंगे। स्कूल को शिफ्ट में बांटा जाएगा और निर्धारित समय पर ही किसी कक्षा के विद्यार्थी स्कूल आएंगे।” उन्होंने कहा कि डिग्री कॉलेज लेवल पर केवल फाइनल सेमेस्टर की क्लास होगी और पोस्ट ग्रैजुएट स्टूडेंट्स के लिए यूनिवर्सिटी के स्तर पर फैसला लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन प्रस्तावों को शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा और 20 अगस्त तक लोग सुझाव दे सकते हैं।

Special for You