सुशांत सुसाइड केस की जांच तेज, इन बढी हस्तियों पर गिरेगी गाज

नई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को अपने बांद्रा स्थित फ्लैट में फंदे से लटककर सुसाइड कर लिया था। एक चमकता हुआ सितारा इस तरह दुनिया को अलविदा कहेगा, इसका किसी को यकीन नहीं हो रहा है। सुशांत के कुछ करीबियों का कहना है कि वो डिप्रेशन में थे, जिस वजह से उन्होंने ये कदम उठाया, जबकि उनके ज्यादातर फैन्स बॉलीवुड को उनकी मौत का जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। पुलिस ने भी मामले में अपनी जांच तेज कर दी है। जल्द ही कई बड़ी हस्तियों से पूछताछ की जाएगी।

महेश भट्ट जल्द देंगे बयान
मामले में महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि सुशांत सुसाइड केस में मुंबई पुलिस ने अब तक 37 लोगों के बयान दर्ज किए हैं। महेश भट्ट एक या दो दिन में पुलिस के सामने अपना बयान दर्ज करवाएंगे। पुलिस ने करण जौहर के मैनेजर को भी पूछताछ के लिए बुलाया है। जरूरत पड़ी तो करण को भी बुलाया जाएगा। आपको बता दें कि सुशांत की मौत के बाद से महेश भट्ट, आलिया भट्ट, सोनम कपूर और करण जोहर उनके फैन्स के निशाने पर है। सबसे ज्यादा आलोचना इन्हीं लोगों की हो रही है।

कंगना से भी पूछताछ
एक्ट्रेस कंगना रनौत ने दावा किया था कि उन्हें सुशांत और बॉलीवुड से जुड़ी कई अहम बातें पता हैं। अगर वो अपनी बातें साबित नहीं कर सकीं, तो पद्मश्री लौटा देंगी। उन्होंने कहा था कि मुंबई पुलिस ने उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया था, लेकिन वो मनाली में थीं। उन्होंने वहां पर बयान लेने के लिए किसी को भेजने का आग्रह किया था, लेकिन किसी ने उनकी बात नहीं सुनी। मामले में गृहमंत्री देशमुख ने कहा कि पुलिस ने कंगना को भी समन भेजा है। जल्द ही उनका भी बयान दर्ज किया जाएगा।

डायरेक्टर रूमी जाफरी का बयान दर्ज
सुशांत सुसाइड केस में गुरुवार को राइटर और डायरेक्टर रूमी जाफरी ने भी पुलिस को अपना बयान दर्ज करवाया था। सूत्रों के मुताबिक रूमी ने पुलिस को बताया कि उन्हें सुशांत के डिप्रेशन में होने की बात छह महीने पहले ही पता चली थी। ये बात खुद रिया चक्रवर्ती ने ही उनसे बताई थी। हालांकि उन्हें डिप्रेशन की वजह नहीं पता चल पाई थी, क्योंकि सुशांत इस बारे में ज्यादा खुलकर बात नहीं करते थे। रूमी के मुताबिक उन्होंने सुशांत के साथ एक फिल्म बनाने का प्लान तैयार किया था, जिस पर सुशांत ने हामी भर दी थी। मई में इसकी शूटिंग लंदन में होने वाली थी, लेकिन इस बीच लॉकडाउन लग गया और फिर जून में सुशांत के सुसाइड की खबर सामने आ गई।

CBI जांच के लिए पीएम को पत्र
सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में हर दिन एक नया मोड़ आ रहा है। शनिवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद सुब्रमण्यम स्वामी द्वारा नियुक्त अधिवक्ता ने जानकारी दी है कि पीएम मोदी के कार्यालय ने सुब्रमण्यम स्वामी द्वारा लिखे सीबीआई जांच की मांग वाले पत्र को एक्नॉलेज (स्वीकार) कर लिया है। बता दें कि सुशांत सिंह के चाहने वाले एक्टर के निधन के बाद से ही इस केस में सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे, जिसे सुब्रमण्यम स्वामी का भी समर्थन मिला था।

Special for You